u tell i search

Saturday, June 5, 2010

गर्मी के जैसी ही चाहिए बारिस...


गर्मी से जहा सब का हाल बेहाल है वही अब कुछ जगहों पर बारिस होने से कुछ राहत भी मिली है पर इस बार बारिसकी ज्यादा आवश्यकता महसूस होने लगी हैउस का कारण यह भी हो सकता की इस बार गर्मी ने थोडा ज्यादा हीपरेशां कर दिया
खैर अब तो पानी भी गर्मी की तरह ही जोरदार चाहिए...

2 comments:

sudeep jain said...

banaya to hai par hai kya?









coments me se word verification hata do com. kane balo ko paresani hai hoti hai

sudeep jain said...

banaya to hai par hai kya?









coments me se word verification hata do com. kane balo ko paresani hai hoti hai